LIC Selling Objection Tips

By | July 19, 2020

LIC Selling Objection Tips – 5


LIC Selling Objection Tips in Hindi
बारीश में छाता और परिवार में LIC बीमा

LIC Selling Objection Tips Hindi
LIC Selling Objection Tips

LIC Selling Objection Tips – लगभग तीस साल के LIC बीमा एजेन्ट विनोद बिजली के ऑफिस में बिल भरने गये। बिल भरने वाले लोग बड़ी संख्या में होने के कारण सब लाइन में खड़े थे। उसी लाइन में विनोद भी खड़े हो गये। बारिश का मौसम होने से अचानक बारिश शुरू हो गई। विनोद के पास छाता था। इसलिए बारिश से बचने के लिए वह उसे खोलकर आराम से खड़े हो गये।

ठीक विनोद के पीछे एक अजनबी आदमी खड़ा था जो बारिश से बचने के लिए विनोद के छाते के नीचे आने की कोशिश कर रहा था। उन्हें देख विनोद ने बड़े आदर से कहा , “ अरे भाईसाहब , मेरा छाता काफी बड़ा है आप बाहर क्यों भीग रहे हैं ? छाते के नीचे आ जाइए। हम दोनों आराम से खड़े रह सकते हैं और बारिश में भीगने से भी बच जाएंगे। ‘ ‘ विनोद का आदर देख वह अजनबी आदमी बिना किसी संकोच के छाते के नीचे आकर खड़ा हो गया। बारिश में भीगने से बचने के कारण उन्हें अच्छा लगा।

छाते के नीचे खड़े उस आदमी से विनोद ने पूछा – “ आप का नाम क्या है? ‘ ‘ उस अजनबी आदमी ने बताया – “ मेर नाम रवि है और मैं रिटेल कंपनी में काम करता हूं। ‘ उनकी बात सुनकर विनोद ने कहा – रवि भाई , मैं LIC बीमा एजेन्ट हूं और मेरा नाम विनोद है। आप से एक बात पूछें ? अचानक बारिश होने के कारण मैंने आपको अपने छाते के नीचे बुलाया आपको कैसा लगा ? रवि भाई ने कहा – मैं आपका आभारी हूं। आपकी वजह से मैं बारिश में भीगने से बच गया। रवि भाई अचानक बारिश होने पर हमें छाते ने भीगने से बचाया। उसी तरह हमारे जीवन में अगर कोई एक्सिडेंट हो जाए या कोई अनहोनी हो जाए। तो आपके परिवार को बचाने का हथियार मेरे पास है और वह है

‘ LIC बीमा पॉलिसी ‘ अगर हमें कुछ हो जाए तो हमारे न रहने पर पूरे परिवार को बीमा पॉलिसी से आर्थिक सहारा मिलता है। अपनी आमदनी के अनुसार सोच – समझकर LIC बीमा लेकर उसका नियमित प्रीमियम भरेंगे तो आपके न रहने पर भी परिवार खुशहाल रह पाएगा , परिवार बुरे हालात से बच पाएगा और किसी के आगे हाथ नहीं फैलाना पड़ेगा। अगर आपके जिंदा रहते ही LIC बीमा पॉलिसी पूरी हो जाए तो बुढ़ापे में आर्थिक रूप से फायदा होगा।

भाई , मनुष्य का जीवन क्षणभंगुर है। मौत कब आ जाए कुछ पता नहीं। अगर बीमा के अंतर्गत कुछ पैसे बचे रहेंगे तो परिवार वालों को तकलीफ के दिनों में सहारा मिलेगा। बारिश में आपके पास छाता हो पर अगर वह टूटा हो , उसमें छेद हो तो उसका कोई मतलब नहीं , ठीक उसी तरह अगर पूरे परिवार की संख्या और उनकी जरूरतों को ध्यान में रखकर बीमा न करवाया हो तो उससे ज्यादा कुछ लाभ नहीं मिलता। बीमा पॉलिसी में भी कभी – कभी कुछ परिवर्तन करवा कर उसका अधिक से अधिक लाभ लेना चाहिए। ‘ LIC बीमा एजेन्ट विनोद की ये सारी बातें रवि की समझ में आ गई। उन्होंने तुरंत ही बीमा पॉलिसी लेने का निश्चय कर लिया। उन्होंने LIC बीमा एजेन्ट विनोद से ही अपनी बीमा पॉलिसी ली।

मित्रों , हम सब LIC बीमा एजेन्ट हैं , इसलिए हमारा सबसे पहला काम बीमा पॉलिसी क्यों लेनी चाहिए? यह बात किसी भी अजनबी इन्सान को समझाना है। हो सकता है ये बातें समझाने से आपको तुरंत कुछ भी फायदा न हो पर वह इन्सान आपकी बातें सुनकर अपने परिवार की आर्थिक सलामती के लिए बीमा पॉलिसी के बारे में जरूर सोचने लगेगा। बीमा पॉलिसी के बारे में जो कुछ भी पढ़ा होगा। वह अनुकूल समय पर जरूर अंकुरित हो जाएगा। और उसी अंकुर से एक दिन वटवृक्ष बनेगा जिसके फलस्वरूप बीमा पॉलिसी लेने वाले लोगों की लाइन लगेगी, इस में कोई दो राय नहीं है।

यह भी पढ़ें » LIC Objection Handling Tips – 4

हमारा काम घुमक्कड़ बनकर समाज में लोगों को बीमा पॉलिसी के संबंध जानकारी देना है। एक शुभ विचार को गंगा के निर्मल जल की तरह सबके पास पहुँचाना है। उसके मीठे फल हमें जरूर मिलेंगे। लेकिन उसके लिए बीमा एजेन्ट को स्वयं पुरुषार्थ करना पड़ेगा। पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी से किया पुरुषार्थ कभी बेकार नहीं जाता। कभी न कभी तो उसका फल मिलता ही है। निष्ठा और लगन से किया कार्य कभी निष्फल नहीं जाता।

Source By – IOE (Mukesh Joshi)



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *