अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें?

By | December 10, 2017

अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें? | LIC चालू करने के विकल्प | हिंदी में

आज हम इस पोस्ट के माध्यम से अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें? के बारें में जानने की कोशिश करेंगे। इससे पहले Revival के बारे में जानते हैं “REVIVAL” का अर्थ है “अपनी बंद बीमा पोलिसी को चालू करना” पालिसिधारक के लिए एक जीवन बीमा पालिसी खरीदने का मुख्य कारण यह है की जब उसकी अचानक मृत्य हो जाये तो उसके बाद उसके परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान हो। लेकिन समय पर प्रीमियम का भुगतान न करने के कारण

अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें?
अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें?

आपकी पालिसी की योजना विफल हो जाती है, और पूरे प्रयास बेकार हो जाते हैं। यदि LIC प्रीमियम का भुगतान देय अवधि में नहीं किया जाता है तो पॉलिसी को अतिरिक्त विलंब शुल्क के साथ चालू किया जा सकता है, इसमे रिवाइवल की आवश्यकता नहीं होती है, यदि भुगतान का मोड वार्षिक,अर्ध-वार्षिक या तिमाही तो एलआईसी न्यूनतम 30 दिन का ग्रेस अवधि देती है, और यदि मासिक है तो 15 दिन का।

यदि किसी पालिसी का भुगतान 6 महीने या उससे अधिक अवधी में नहीं किया जाता है तो पॉलिसी समाप्त हो जाती है, यानि पालिसी lapse हो जाती है, इसे पुनः चालू करने के लिए जिस तारीख से प्रीमियम का भुगतान नहीं किया गया है उस तिथि से 2 वर्षों के भीतर किसी भी समय पुनर्जीवित किया जा सकता है, निचे 5 विकल्पों के तहत LAPSE हुई पालिसी को पुनर्जीवित किया जा सकता है।

LIC ki band policy kaise chalu kare

1. सामान्य पुनर्चलन (Ordinary Revival)

सामान्य REVIVAL योजना के तहत LIC पालिसी के सभी भुगतान न किए गए प्रीमियम की एकमुश्त प्रीमियम राशि में मौजूदा दर पर ब्याज के साथ भुगतान करके पुनर्जीवित किया जा सकता । ब्याज की वर्तमान दर 9.5% वार्षिक है, इसको फॉर्म नंबर 680 द्वारा डीजीएच के साथ (अच्छे स्वास्थ्य की घोषणा) REVIVE किया जाता है और यदि आवश्यक हो तो चिकित्सा रिपोर्ट की आवश्यकता है।

यह भी पढ़ेंLIC पालिसी में अपना पता कैसे बदलें?

LIC FORM NO 680 – DOWNLOAD
LIC FORM NO 700 –  DOWNLOAD
LIC FORM NO 720 – DOWNLOAD

2. विशेष पुनर्चलन (Special Revival)

यदि कोई पॉलिसी धारक एकमुश्त सभी प्रीमियमों का भुगतान करने में असमर्थ है, तो वह विशेष पुनरुत्थान योजना के तहत अपनी पालिसी को पुनर्जीवित कर सकता है। इस योजना में प्रारंभ होने की तिथि स्थानांतरित की जाएगी और पॉलिसीधारक को उसकी उम्र (REVIVAL के समय) के अनुसार केवल एक प्रीमियम का भुगतान करना होगा। इसको फॉर्म नंबर 680 द्वारा डीजीएच के साथ (अच्छे स्वास्थ्य की घोषणा) REVIVE किया जाता है और यदि आवश्यक हो तो चिकित्सा रिपोर्ट की आवश्यकता होती है। विशेष REVIVAL योजना के तहत एलआईसी पॉलिसी के REVIVAL के लिए निम्नलिखित शर्तों को संतुष्ट करना आवश्यक है।

  • संपूर्ण पॉलिसी अवधि में विशेष पुनर्चलन (Special Revival) केवल एक बार किया जा सकता है।
  • विशेष REVIVAL को केवल 3 वर्षों के भीतर LAPSE हुई पालिसी को ही अनुमति दी जाती है।
  • पॉलिसी में कोई सरेंडर वैल्यू नहीं लिया जाना चाहिए , यद्यपि यह विकल्प पॉलिसी के प्रारंभ होने की तारीख से 3 साल के भीतर प्रयोग किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें – LIC पालिसी का बोनस कैसे कैलकुलेट करें?

3. किस्तों द्वारा पुनर्चलन (Installments Revival)

यदि पॉलिसीधारक एकमुश्त सभी प्रीमियम का भुगतान करने में असमर्थ हैं तो वह अपनी पालिसी को REVIVAL करने के लिए इस योजना का उपयोग कर सकते हैं इस योजना के तहत वह तुरंत निम्नलिखित राशि का भुगतान करके अपनी पालिसी को पुन: चालू कर सकता है।

  • वार्षिक पद्धति के भुगतान में, वार्षिक प्रीमियम का आधा हिस्सा।

  • छमाही वार्षिक मोड में, एक छमाही प्रीमियम।

  • तिमाही मोड के भुगतान में, 2 तिमाही प्रीमियम।

  • मासिक भुगतान विधि में, 6 मासिक प्रीमियम, बाकी बकाया प्रीमियम को किश्तों में दो साल के भीतर चुकाया जाना है। जरूरी हो तो पॉलिसी अवधि के अनुसार नियमित प्रीमियम डीजीएच और मेडिकल रिपोर्ट (यदि आवश्यक हो) के साथ दिया जायेगा।

यह भी पढ़ें LIC बीमा क्लेम कैसे करें?

4. उत्तरजीविता बेनिफिट कम-रिवाइवल स्कीम (Survival Benefit cum- Revival Scheme)

MONEY बैक के मामले में, मनी बैक टाइप पॉलिसी को MONEY बैक (एस बी) का उपयोग करके पुनर्जीवित किया जा सकता है। नियत तारीख REVIVAL की तारीख से पहले है यदि REVIVAL राशि MONEY बैक से ज्यादा है तो अतिरिक्त राशि की मांग की जाएगी और यदि REVIVAL राशि MONEY बैक. से कम है तो शेष राशि पॉलिसीधारक को वापस दी जाएगी।

यह भी पढ़ें PAYTM से LIC प्रीमियम कैसे भरें?

5. लोन-सह-पुनर्चलन योजना (Loan Cum-Revival Scheme)

यदि पॉलिसी REVIVAL तिथि पर सरेंडर वैल्यू प्राप्त कर लेती है तो इस पालिसी पर ऋण लिया जा सकता है तथा ऋण को पालिसी को चालू करने में उपयोग किया जाता है,यदि ऋण REVIVAL राशि से कम है, तो पॉलिसीधारक को बाकी राशी का भुगतान करना होगा। अगर रिवाइवल की रकम लोन अमाउंट से कम है तो शेष राशि का भुगतान पॉलिसीधारक को दिया जाएगा।

I hope “अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें?” के बारे में ये जानकारी अच्छी लगी होगी, अगर हाँ तो इसे अपने सभी Friends के साथ Social media पर Share जरुर करें ताकी आपकी मदद से दुसरे लोग भी इस योजना की जानकारी को पढ़ सकें, और वो इसका लाभ ले सके, कोई ऐसी जानकारी रह गयी हो और आप जानना चाहते हो तो आपके सुझाव व प्रस्ताव स्वीकार्य हैं और नीचे दिए गए comment box में टिप्पणी भी अवश्य दें! धन्यवाद..

8 thoughts on “अपनी बंद LIC पोलिसी कैसे चालू करें?

  1. Pingback: Paytm से LIC प्रीमियम का भुगतान कैसे करें? » Call-9891009400

  2. Pingback: What is LIC NACH » एलआईसी नैच क्या है? -: LIC प्रीमियम भुगतान करने का

  3. Pingback: Want to Surrender LIC policy? » क्या आप LIC पॉलिसी सरेंडर करना चाहते हैं?

  4. Pingback: New fraud in LIC Kodad Branch Telangana » LIC में 3 करोड़ का बड़ा घोटाला

  5. Pingback: बीमा धारक की मृत्यु होने पर बीमा क्लेम कैसे लें? How to apply for death claim?

  6. Pingback: How to change the address in LIC Policies? » Call-9891009400

  7. Pingback: Why LIC? » कुछ लोग जीवन बीमा कराने से दुर भागते है। जबकि कुछ लोग अधिक

  8. Pingback: What is Life Insurance and it’s terms » जीवन बीमा प्लान की बेसिक जानकारी !

Leave a Reply

Your email address will not be published.